Event for Sahadat Diwas

23rd and 25th March 2017

Event for Shahadat diwas

Shahid Diwas1

Shahid diwas


Holi Milan

11th March 2017

Holi Milan


Mahila Day

8th March 2011

Mahila diwas


 Sanvad सामजजक न्याय हदिस

20th February 2017

20170220_150200

IMG-20170208-WA0008


Prativad March 

13th February 2017

IMG-20170213-WA0010

IMG-20170213-WA0046-1


 झुग्गी वार्समों के स्थाई आवास हेतु यणनीनतक फैठक

12th February 2017

20170212_095209


Event for Sant Ravidas Jayanti

10th  February 2017

20170210_135220

20170210_135920


Name of Event: Ambedkar Parinirwan Diwas

Date: 6th December 2016

20161206_143042-selected


Name of Event: Human Rights Day 

Date: 10th December 2016

20161210_140829-s


Name of Event: Meeting Against Lathi Charge

Date: 12th December 2016

20161212_141753-s


Name of Event/Activity:संवाद :दलित और महिला हिंसा

Date: 3 November 2016

Time:1-4 pm,  Location: Siyargarh, Goradih

Type of Activity:संवाद

Brief Description:

महिला हिंसा पर बैठक दलित महिलाओं और किशोरियों के साथ गोराडीह प्रखंड के सियारगढ़ गांव में हुआ | दलितों पर हो रहे हमले और हजारों वर्षों के शोषण पर चर्चा हुई ताकि इन हमलों का प्रतिकार किया जा सके |

Theme: दलित और महिला हिंसा

Rationale: दलितो औरमहिलाओ के शोषण को आम जन को समझाना

Resource Person/s.उदय , जयनारायण और मंजीत कुमार

Impact of Activity:

  1. Total number of participants (in that activity) : 33
  2. Feedback:
  3. From Participants: दुसरे उच्च जाति के लोग हम महिलाओं को बुरी नजर से देखता है | एक दो बार विरोध भी किये हैं पर और खुलकर विरोध की जरुरत है |

From Resource Persons : दलितों में भी महिला अधिक पीड़ित हैं पर इनके मुखर होने संभावना भी अधिक है |


Name of Event/Activity:पोस्टर प्रदर्शनी

Date: 6 November 2016

Time: 4 – 8 am, Location:  काली घाट, मायागंज, भागलपुर

Brief Description:

पीस सेंटर, परिधि की ओर से मायागंज घाट पर छठ के अवसर पर पोस्टर प्रदर्शनी लगाई गई. पोस्टर सद्भाव और विविधता की संस्कृति पर केंद्रित था | अस्ताचलगामी सूर्य को अर्ग दिया गया|छठ बिहार का एक प्रमुख पर्व है | इस मौके पर सिर्फ हिन्दू ही नहीं बल्कि कई मुसलमान परिवार भी छठ व्रत करते हैं | इसलिए यह अलग है और अनूठा है | एक बात और यह लोक पर्व है इसमें पंडित नहीं होते बस व्रती होते हैं | पीस सेंटर द्वारा इस अवसर पर छठ घाट पर सौहार्द पोस्टर लगाया गया | इसके माध्यम से भारत की सांस्कृतिक पहचान राखी गई |

Theme:  मिल्लत की संस्कृति

Rationale: मिल्लत का माहौल बनाना

Resource Person/s :-उदय

Impact of Activity:

  1. Total number of participants (in that activity) : 500
  2. Feedback:

From Organizers : यह एक अच्छा अवसर था जब सैकड़ो की संख्या में लोग हों और हम समाज को एक सन्देश दे सके |

From Participants : बहुत अच्छा लगा पूजा के साथ साथ अच्छी बातें सिखने को मिल गई |


Name of Event/Activity: बाल दिवस

Date: 14 November 2016

Time:12-3 pm, Location:  बड़ी जमीन, गोराडीह

Type of Activity: सांस्कृतिक कार्यक्रम, भाषण- मेरे सपनो का भारत

Brief Description:

बाल दिवस के अवसर पर बड़ी जमीन में कई तरह के कार्यक्रम हुए | सर्व प्रथम किशोर और किशोरियों ने “मेरे सपनो का भारत”विषय पर भाषण प्रतियोगिता में हिस्सा लिया | इसके बाद सबने मिलकर देशभक्ति गीत नाटक आदि सांस्कृतिक कार्यक्रम किये | कार्यक्रम में विस्तार से अपनी बात रखते हुए उदय ने कहा-जवाहर लाल नेहरू- आधुनिक भारत के निर्माता , जमींदारी उन्मूलन , पंचशील के प्रणेता और गुटनिरपेक्ष आंदोलन के लिये जाने जाते हैं | इन्होने भारत को विविधता की ताक़त के रूप में समझा |

Theme:  मेरे सपनो का भारत

Rationale: किशोरों में विविध की संस्कृति की समझ विकसित करना

Impact of Activity:

  1. Total number of participants (in that activity) : 52
  2. Feedback:

From Organizers : कार्यक्रम बहुत ही अच्छा था | ग्रामीण क्षेत्रों में इससे जानकारी का संचार हुआ |

 


Type of Activity:संवाद

Name of Event/Activity:कश्मीर की कहानी सुरेश खैरनार की जुबानी

Date:24 November 2016

Time:1 pm, Locationगाँधी शांति प्रतिष्ठान केंद्र , भागलपुर

Brief Description:

24 नवम्बर को गांधी शांति प्रतिष्ठान केंद्र में ” कश्मीर की कहानी : सुरेश खैरनार की जुबानी ” संवाद का आयोजन हुआ . आयोजन पीस सेंटर ,परिधि और ऑल इंडिया सेकुलर फोरम की ओर से था . 1 -12 Oct तक कश्मीर में बिताये अनुभव के आधार पर डॉ. सुरेश खैरनार ने कश्मीर के राजनीतिक सामाजिक हालात को रखा . उन्होंने कहा 1000 के करीब लोगों की आंखें पिलेट गन से जा चुकी हैं . कश्मीर की आजदी जन आंदोलन में परिणत हो चूका है . 80 लाख लोगों पर 10 लाख सेना है, लगभग एक परिवार पर एक सैनिक . फिर भी स्थिति नियंत्रण से बाहर है . इतनी बड़ी आबादी को मारकर या दबाकर अपने साथ नहीं रखा जा सकता . कश्मीर हमारा और कश्मीरी बेगाना कैसे हो सकता है . उन्होंने यह भी कहा कि 1964 तक कश्मीर का अपना संविधान और अपना सुप्रीम कोर्ट था . कश्मीर के मुख्य मंत्री को प्रधानमंत्री कहा जाता था . सभी रियासत के नुमाइंदे संविधान में थे पर कश्मीर का कोई नुमाइंदा नहीं था . धारा 370 पर श्यामा प्रसाद मुखर्जी के सहमति के हस्ताक्षर हैं . बॉर्डर पर बसे लोग युद्ध नहीं चाहते.कश्मीर हमारे साथ जन पहल से ही रह सकता है .
कार्यक्रम की अध्यक्षता डॉ .प्रतिभा सिन्हा , संचालन राहुल , बिषय प्रवेश उदय और धन्यबाद ज्ञापन ललन ने किया .

 Theme:  कश्मीर की समस्या

Rationale: कश्मीर की समस्या को समझना

Resource Person/s: डा. सुरेश खैरनार

Impact of Activity:

  1. Total number of participants (in that activity) : 53
  2. Feedback:

From Organizers : कश्मीर पर बात करने को लोग मुस्लिम और पकिस्तान परस्त होना मानते है

From Participants : कश्मीर को कश्मीरी की नजर से समझा जाना चाहिए

From Resource Persons : कश्मीर के हालात बहुत ही भयावह हो चला है पर शेष भारतीयों को समझ नहीं


Type of Activity: संवाद

Name of Event/Activity: स्राधांजलि सभा

Date: 28 November 2016

Time: 1 pm,             Location:   लाजपतनगर, दाउदवाट, भागलपुर  

 

Brief Description:

28 नवम्बर को महात्मा फुले की पुण्य तिथि पर उन्हें याद किया गया. पीस सेंटर ,परिधि की ओर से कार्यक्रम आयोजित किया गया था . एक सप्ताह तक कार्यक्रम विभिन्न स्थानों पर आयोजित होंगे .
महात्मा फुले ने समाज के दबे कुचले वर्ग के लिये शिक्षा का अभिक्रम चलाया . अपनी पत्नी को पढ़ाया . पत्नी सावित्री बाई फुले भारत की पहली महिला शिक्षिका बनी . देश में सावित्री बाई ने महिला शिक्षा के द्वार खोले .
महात्मा फुले सामाजिक गुलामी (जाति व्यवस्था) को राजनितिक गुलामी से बड़ा मानते थे . अपने सवर्ण मित्र के बारात से अपमानित होकर उन्हें वापस होना पड़ा था . जाति प्रथा के विरुद्ध लड़ने वाले वे महान रचनात्मक योद्धा थे,जिन्हें बाबा साहब ने भी अपना प्रेरणा स्रोत माना |

Theme:

Rationale: महान समाज सुधारको के बारे में दलित समुदाय को बताना ताहि हीनता बोध समाप्त हो |

Resource Person/s :-उदय और रामपुजन दास

 


 

29th October 2016 Diwali Milan

diwali-milan-2016-1 diwlai-milan-2016-2


23 October 2016 Stri Aur Samajik Nyay

stri-aur-samajik-nyay-2016


8th October Sadbhawna Sanwad 

sadbhawana-samvad-october-2016-1 sadbhawana-samvad-october-2016


7th October Dashara Milan

dessera-milan-2016-1 dessear-milan-2016-2


5th October 2016 Dharmik Ewam Waicharik Kattarta

dharmik-ewam-waicharik-kattarta


2nd October 2016 Event for Ahimsa Din

ahimsa-din-2-10-2016-1 ahimsa-din-2-10-2016-2 ahimsa-din-2-10-2016-3


30 Sept. 2016- सह संवाद- धर्म निरपेक्षता रास्ट्रवाद और दलित – पीस सेंटर भागलपुर

 

img-20160930-wa0009


25 Sept. 2016- महिला कविता गोष्ठी – कलाकेन्द्र भागलपुर

20160925_165704

20160925_164739


Event for World Peace Day

विश्व शांति दिवस

इस अवसर पर निबंध प्रतियोगिता -अनेकता में एकता और शांति ॥ 80 प्रतिभागी शामिल ॥
प्रतियोगिता के बाद संवाद का आयोजन -विषय -शांति के लिये
मंच पर सुषमा , मो.फारुख , प्राचार्य आभा कुमारी , मो.शमशुल हक ,dr रामनारायण भास्कर ,dr अरविन्द कुमार , रूपम भारती ,सुजीत कुमार पांडे ॥

bhagalpur-1 bhagalpur-2 bhagalpur-3 bhagalpur-4 bhagalpur-5 bhagalpur-6 bhagalpur-7 bhagalpur-8


15 Sept. 2016- युवा उत्प्रेरण -वैकल्पिक मिडिया

20160915_093648

20160915_101018

________________________________________________________________________________

8 Sept. 2016- Chhapra Sampradayik Hinsa ka Report Jaari – Bhagalpur

20160908_173041

20160908_172329


 

4 Sept. 2016- Shanti ewam Manawta sammelan

20160904_145425

20160904_150815


3 Sept. 2016 Sadbhawna sanwad- Chhapra

fb_img_1475164341190

fb_img_1475164368963


Fact finding Mission – Chhapra, Bihar

fb_img_1475164531221fb_img_1475164531221

fb_img_1475164521518