Name of Event: Ambedkar Parinirwan Diwas

Date: 6th December 2016

20161206_143042-selected


Name of Event: Human Rights Day 

Date: 10th December 2016

20161210_140829-s


Name of Event: Meeting Against Lathi Charge

Date: 12th December 2016

20161212_141753-s


Name of Event/Activity:संवाद :दलित और महिला हिंसा

Date: 3 November 2016

Time:1-4 pm,  Location: Siyargarh, Goradih

Type of Activity:संवाद

Brief Description:

महिला हिंसा पर बैठक दलित महिलाओं और किशोरियों के साथ गोराडीह प्रखंड के सियारगढ़ गांव में हुआ | दलितों पर हो रहे हमले और हजारों वर्षों के शोषण पर चर्चा हुई ताकि इन हमलों का प्रतिकार किया जा सके |

Theme: दलित और महिला हिंसा

Rationale: दलितो औरमहिलाओ के शोषण को आम जन को समझाना

Resource Person/s.उदय , जयनारायण और मंजीत कुमार

Impact of Activity:

  1. Total number of participants (in that activity) : 33
  2. Feedback:
  3. From Participants: दुसरे उच्च जाति के लोग हम महिलाओं को बुरी नजर से देखता है | एक दो बार विरोध भी किये हैं पर और खुलकर विरोध की जरुरत है |

From Resource Persons : दलितों में भी महिला अधिक पीड़ित हैं पर इनके मुखर होने संभावना भी अधिक है |


Name of Event/Activity:पोस्टर प्रदर्शनी

Date: 6 November 2016

Time: 4 – 8 am, Location:  काली घाट, मायागंज, भागलपुर

Brief Description:

पीस सेंटर, परिधि की ओर से मायागंज घाट पर छठ के अवसर पर पोस्टर प्रदर्शनी लगाई गई. पोस्टर सद्भाव और विविधता की संस्कृति पर केंद्रित था | अस्ताचलगामी सूर्य को अर्ग दिया गया|छठ बिहार का एक प्रमुख पर्व है | इस मौके पर सिर्फ हिन्दू ही नहीं बल्कि कई मुसलमान परिवार भी छठ व्रत करते हैं | इसलिए यह अलग है और अनूठा है | एक बात और यह लोक पर्व है इसमें पंडित नहीं होते बस व्रती होते हैं | पीस सेंटर द्वारा इस अवसर पर छठ घाट पर सौहार्द पोस्टर लगाया गया | इसके माध्यम से भारत की सांस्कृतिक पहचान राखी गई |

Theme:  मिल्लत की संस्कृति

Rationale: मिल्लत का माहौल बनाना

Resource Person/s :-उदय

Impact of Activity:

  1. Total number of participants (in that activity) : 500
  2. Feedback:

From Organizers : यह एक अच्छा अवसर था जब सैकड़ो की संख्या में लोग हों और हम समाज को एक सन्देश दे सके |

From Participants : बहुत अच्छा लगा पूजा के साथ साथ अच्छी बातें सिखने को मिल गई |


Name of Event/Activity: बाल दिवस

Date: 14 November 2016

Time:12-3 pm, Location:  बड़ी जमीन, गोराडीह

Type of Activity: सांस्कृतिक कार्यक्रम, भाषण- मेरे सपनो का भारत

Brief Description:

बाल दिवस के अवसर पर बड़ी जमीन में कई तरह के कार्यक्रम हुए | सर्व प्रथम किशोर और किशोरियों ने “मेरे सपनो का भारत”विषय पर भाषण प्रतियोगिता में हिस्सा लिया | इसके बाद सबने मिलकर देशभक्ति गीत नाटक आदि सांस्कृतिक कार्यक्रम किये | कार्यक्रम में विस्तार से अपनी बात रखते हुए उदय ने कहा-जवाहर लाल नेहरू- आधुनिक भारत के निर्माता , जमींदारी उन्मूलन , पंचशील के प्रणेता और गुटनिरपेक्ष आंदोलन के लिये जाने जाते हैं | इन्होने भारत को विविधता की ताक़त के रूप में समझा |

Theme:  मेरे सपनो का भारत

Rationale: किशोरों में विविध की संस्कृति की समझ विकसित करना

Impact of Activity:

  1. Total number of participants (in that activity) : 52
  2. Feedback:

From Organizers : कार्यक्रम बहुत ही अच्छा था | ग्रामीण क्षेत्रों में इससे जानकारी का संचार हुआ |

 


Type of Activity:संवाद

Name of Event/Activity:कश्मीर की कहानी सुरेश खैरनार की जुबानी

Date:24 November 2016

Time:1 pm, Locationगाँधी शांति प्रतिष्ठान केंद्र , भागलपुर

Brief Description:

24 नवम्बर को गांधी शांति प्रतिष्ठान केंद्र में ” कश्मीर की कहानी : सुरेश खैरनार की जुबानी ” संवाद का आयोजन हुआ . आयोजन पीस सेंटर ,परिधि और ऑल इंडिया सेकुलर फोरम की ओर से था . 1 -12 Oct तक कश्मीर में बिताये अनुभव के आधार पर डॉ. सुरेश खैरनार ने कश्मीर के राजनीतिक सामाजिक हालात को रखा . उन्होंने कहा 1000 के करीब लोगों की आंखें पिलेट गन से जा चुकी हैं . कश्मीर की आजदी जन आंदोलन में परिणत हो चूका है . 80 लाख लोगों पर 10 लाख सेना है, लगभग एक परिवार पर एक सैनिक . फिर भी स्थिति नियंत्रण से बाहर है . इतनी बड़ी आबादी को मारकर या दबाकर अपने साथ नहीं रखा जा सकता . कश्मीर हमारा और कश्मीरी बेगाना कैसे हो सकता है . उन्होंने यह भी कहा कि 1964 तक कश्मीर का अपना संविधान और अपना सुप्रीम कोर्ट था . कश्मीर के मुख्य मंत्री को प्रधानमंत्री कहा जाता था . सभी रियासत के नुमाइंदे संविधान में थे पर कश्मीर का कोई नुमाइंदा नहीं था . धारा 370 पर श्यामा प्रसाद मुखर्जी के सहमति के हस्ताक्षर हैं . बॉर्डर पर बसे लोग युद्ध नहीं चाहते.कश्मीर हमारे साथ जन पहल से ही रह सकता है .
कार्यक्रम की अध्यक्षता डॉ .प्रतिभा सिन्हा , संचालन राहुल , बिषय प्रवेश उदय और धन्यबाद ज्ञापन ललन ने किया .

 Theme:  कश्मीर की समस्या

Rationale: कश्मीर की समस्या को समझना

Resource Person/s: डा. सुरेश खैरनार

Impact of Activity:

  1. Total number of participants (in that activity) : 53
  2. Feedback:

From Organizers : कश्मीर पर बात करने को लोग मुस्लिम और पकिस्तान परस्त होना मानते है

From Participants : कश्मीर को कश्मीरी की नजर से समझा जाना चाहिए

From Resource Persons : कश्मीर के हालात बहुत ही भयावह हो चला है पर शेष भारतीयों को समझ नहीं


Type of Activity: संवाद

Name of Event/Activity: स्राधांजलि सभा

Date: 28 November 2016

Time: 1 pm,             Location:   लाजपतनगर, दाउदवाट, भागलपुर  

 

Brief Description:

28 नवम्बर को महात्मा फुले की पुण्य तिथि पर उन्हें याद किया गया. पीस सेंटर ,परिधि की ओर से कार्यक्रम आयोजित किया गया था . एक सप्ताह तक कार्यक्रम विभिन्न स्थानों पर आयोजित होंगे .
महात्मा फुले ने समाज के दबे कुचले वर्ग के लिये शिक्षा का अभिक्रम चलाया . अपनी पत्नी को पढ़ाया . पत्नी सावित्री बाई फुले भारत की पहली महिला शिक्षिका बनी . देश में सावित्री बाई ने महिला शिक्षा के द्वार खोले .
महात्मा फुले सामाजिक गुलामी (जाति व्यवस्था) को राजनितिक गुलामी से बड़ा मानते थे . अपने सवर्ण मित्र के बारात से अपमानित होकर उन्हें वापस होना पड़ा था . जाति प्रथा के विरुद्ध लड़ने वाले वे महान रचनात्मक योद्धा थे,जिन्हें बाबा साहब ने भी अपना प्रेरणा स्रोत माना |

Theme:

Rationale: महान समाज सुधारको के बारे में दलित समुदाय को बताना ताहि हीनता बोध समाप्त हो |

Resource Person/s :-उदय और रामपुजन दास

 


 

29th October 2016 Diwali Milan

diwali-milan-2016-1 diwlai-milan-2016-2


23 October 2016 Stri Aur Samajik Nyay

stri-aur-samajik-nyay-2016


8th October Sadbhawna Sanwad 

sadbhawana-samvad-october-2016-1 sadbhawana-samvad-october-2016


7th October Dashara Milan

dessera-milan-2016-1 dessear-milan-2016-2


5th October 2016 Dharmik Ewam Waicharik Kattarta

dharmik-ewam-waicharik-kattarta


2nd October 2016 Event for Ahimsa Din

ahimsa-din-2-10-2016-1 ahimsa-din-2-10-2016-2 ahimsa-din-2-10-2016-3


30 Sept. 2016- सह संवाद- धर्म निरपेक्षता रास्ट्रवाद और दलित – पीस सेंटर भागलपुर

 

img-20160930-wa0009


25 Sept. 2016- महिला कविता गोष्ठी – कलाकेन्द्र भागलपुर

20160925_165704

20160925_164739


Event for World Peace Day

विश्व शांति दिवस

इस अवसर पर निबंध प्रतियोगिता -अनेकता में एकता और शांति ॥ 80 प्रतिभागी शामिल ॥
प्रतियोगिता के बाद संवाद का आयोजन -विषय -शांति के लिये
मंच पर सुषमा , मो.फारुख , प्राचार्य आभा कुमारी , मो.शमशुल हक ,dr रामनारायण भास्कर ,dr अरविन्द कुमार , रूपम भारती ,सुजीत कुमार पांडे ॥

bhagalpur-1 bhagalpur-2 bhagalpur-3 bhagalpur-4 bhagalpur-5 bhagalpur-6 bhagalpur-7 bhagalpur-8


15 Sept. 2016- युवा उत्प्रेरण -वैकल्पिक मिडिया

20160915_093648

20160915_101018

________________________________________________________________________________

8 Sept. 2016- Chhapra Sampradayik Hinsa ka Report Jaari – Bhagalpur

20160908_173041

20160908_172329


 

4 Sept. 2016- Shanti ewam Manawta sammelan

20160904_145425

20160904_150815


3 Sept. 2016 Sadbhawna sanwad- Chhapra

fb_img_1475164341190

fb_img_1475164368963


Fact finding Mission – Chhapra, Bihar

fb_img_1475164531221fb_img_1475164531221

fb_img_1475164521518